Main Slideतकनीकीप्रदेशराष्ट्रीय

किसाऊ परियोजना में उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, यूपी, दिल्ली, राजस्थान और हरियाणा के बीच होगा MOU

नई दिल्ली में शनिवार को किसाऊ बहुद्देशीय परियोजना पर 6 राज्यों में एमओयू किया जाएगा। राष्ट्रीय परियोजना के तौर पर घोषित इस परियोजना के एमओयू पर हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान व हरियाणा के मुख्यमंत्री हस्ताक्षर करेंगे।

शुक्रवार को नई दिल्ली में रेणुका बहुद्देशीय परियोजना के एमओयू होने के बाद श्रमशक्ति भवन में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की अध्यक्षता में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के मध्य किसाऊ परियोजना के क्रियान्वयन पर विस्तृत विचार विमर्श किया गया।

 

किसाऊ परियोजना देहरादून जिले में टोंस नदी पर स्थित बहुद्देशीय परियोजना है। इसे वर्ष 2008 में राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया गया था। इसमें भारत सरकार ने जल घटक का 90 प्रतिशत की सीमा तक अनुदान सहायता के रूप में दिया जाएगा।

उत्तराखंड की सचिव ऊर्जा राधिका झा ने बताया,” परियोजना से 660 मेगावाट जलविद्युत का उत्पादन किया जाएगा। इसके अतिरिक्त 97,076 हेक्टेयर क्षेत्रफल की सिंचाई और घरेलू व औद्योगिक उपयोग के लिए 617 एमसीएम पानी उपलब्ध होगा।”

” परियोजना से होने वाले सिंचाई व जल संबंधी लाभों का बंटवारा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान व हरियाणा के मध्य किया जाएगा। परियोजना की कुल लागत 11,550 करोड़ रूपए है।” राधिका झा ने आगे बताया।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close