Main Slideराष्ट्रीय

WMA की पहली राष्ट्रीय कार्यकारिणी हुई संपन्न, देशभर से शामिल हुए Web Journalist

वेब मीडिया एसोसिएशन (WMA) देश की एकमात्र ऐसी पंजीकृत संस्था है, जिसके सदस्यों ने 9 जनवरी 2019 को प्रेस क्लब ऑफ इंडिया नई दिल्ली में शिरकत की। कार्यकारिणी के सदस्यों द्वारा पार्लियामेंट के ऊपरी सदन राज्यसभा में स्थान ग्रहण करने के बाद उनके लिए संसद की कैंटीन में भोजन का भी प्रबंध किया गया।
बता दें कि वेब मीडिया एसोसिशन में देशभर के नामी गिरामी पत्रकारो ने सदस्यता ली है। इसके साथ जल्द ही राष्टीय अधिवेशन बुलाया जाना है। इतना ही नहीं वेब मीडिया एसोसिएशन ने देश की राजनीतिक हस्तियों से मुलाकात करके ज्ञापन भी दिया, जिससे हिंदी भाषी राज्यो के अलावा तमिल, केरला, आंध्रप्रदेश में भी वेब मीडिया एसोसिशन का विस्तार हो गया है। इसके साथ ही ये देश की रजिस्टर्ड वेब मीडिया एसोसिएशन बन गई है।

इसे भी पढ़ें- शिक्षकों के लिए बड़ी खबर, सरकार ने निकाली बंपर भर्तियां, अब मिलेगी नौकरी

इसके सदस्यों की बात करें तो उत्तराखंड के प्रदेश संयोजक श्री अरुण कुमार यादव बनाये गए है। वहीं, पंजाब में अमनदीप मेहरा बनाये गए है। हरियाणा संयोजक डॉ प्रमोद कौशिक जी बनाए गए है।

 

वही, गुजरात, मध्य प्रदेश, हिमाचल, दिल्ली राज्य, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, केरला, आंध्रप्रदेश के सदस्यता फॉर्म आ रहे है। इन राज्यो से सीनियर पत्रकारो को केंद्रीय कार्यकारिणी में लिया गया है। जिन राज्यो में संयोजक बना दिये गए है उन राज्यों का विस्तार भी अब तेजी से हो सकेगा। साथ ही उनसे अपने राज्य का विस्तार तेजी से करने को कहा है।

इसे भी पढ़ें- 26 साल बाद आया ऐसा मौका, माया-अखिलेश ने चला सियासी दांव, बढ़ सकती हैं मोदी की मुश्किलें

इस बैठक में WMA के संरक्षक चंद्रसेन वर्मा ने सभी को विश्वास दिलाया की जल्द ही एक बैठक का आयोजन किया जाएगा, जिसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। इसी के साथ सरकार द्वारा वेब मीडिया का पंजीकरण कराने का भी आगाज किया गया है।

दिल्ली में वेब मीडिया एसोसिशन की आमसभा प्रस्तावित है। बता दें कि प्रस्ताव पास होते ही दिनांक घोषित कर दी जाएगी।

9 जनवरी 2019 की प्रथम मीटिंग एक सुनहरा छाप छोड़ गई है। भविष्य के लिए मजबूत इमारत बनाने के लिये मजबूत नींव डाल गई। बता दें फरवरी में देशभर के वेब मीडिया से जुड़े पत्रकारो का महासम्मेलन किया जाएगा।

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close