Main Slideखेलरोचक खबरें

सहवाग का वो ओवर, जिसने लाखों लोगों की आंखों में आंसू ला दिया था

वीरेंद्र सहवाग का नाम भारत के महान और ताबड़तोड़ बल्लेबाजों में की जाती है। 20 अक्टूबर 1978 को दिल्ली के नजफगढ़ में जन्में वीरेंद्र सहवाग ने क्रिकेट में कई रिकॉर्ड ध्वस्त किए हैं। इस दिग्गज खिलाड़ी को इयान चैपल विश्व का सबसे महान बल्लेबाज घोषित कर चुके हैं। वीरू टेस्ट क्रिकेट में 2 तिहरे शतक लगाने वाले भारत के एकमात्र बल्लेबाज है।

सेहवाग टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज तिहरा शतक लगाने वाले खिलाड़ी भी है। इसके अलावा वीरू छक्के के साथ ट्रिपल सेंचुरी करने वाले इकलौते बल्लेबाज भी हैं। सहवाग वनडे क्रिकेट में बतौर कप्तान दोहरा शतक लगाने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं।वीरेंद्र सहवाग ने वर्ष 2005 में श्रीलंका की टीम के खिलाफ एक ओवर में ऐतिहासिक बल्लेबाजी की थी,जिसे भुलाए से भी नहीं भुलाया जा सकता।

सहवाग ने श्रीलंका के खिलाफ 1 ओवर की 6 गेंदों पर लगातार 4,4,6,4,4,4 रन जड़ बनाए थे।जिसने भी यह ओवर देखा था उनके जहन से यह ओवर नहीं निकलता है। ये पारी देखकर सहवाग के लाखों फैन्स की आंखों से खुशी के आंसू आ गए थे।

अपने क्रिकेट करियर में 17 हज़ार से अधिक रन बनाने वाले सहवाग हमेशा ताबड़तोड़ पारियां खेलने के लिए जाने जाते थे। सहवाग क्रिकेट के हर एक फॉर्मेट में विस्फोटक बल्लेबाजी किया करते थे। टेस्ट क्रिकेट में 100 से कम बॉल में शतक लगाने का रिकॉर्ड सहवाग के ही नाम ही है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close