Main Slideउत्तराखंडतकनीकीप्रदेशराष्ट्रीयरोचक खबरें

उत्तराखंड व हरियाणा के बीच हुआ बड़ा समझौता, जल व बिजली की अब नहीं होगी कमी

परियोजना से उत्तराखंड को बिजली व हरियाणा को 47 प्रतिशत पानी की आपूर्ति होगी

उत्तराखंड व हरियाणा के बीच जल्द ही किसाऊ और रेणुका बहुद्देशीय परियोजनाओं पर एमओयू किया जाएगा। दोनों राज्यों के बीच किसाऊ बहुद्देशीय परियोजना से सम्बन्धित बिजली व पानी की भागीदारी के सम्बन्ध में निर्णय हो गया है।

परियोजना से उत्तराखंड को बिजली व हरियाणा को 47 प्रतिशत पानी की आपूर्ति होगी। उत्तराखंड व हरियाणा संयुक्त रूप से केन्द्र सरकार से आग्रह करेंगे कि किसाऊ के संबंध में जल्द से जल्द टेंडर की अनुमति प्रदान की जाए।

किसाऊ, लखवाड़ व रेणुका बहुद्देशीय परियोजनाओं को ससमय पूरा करने के लिए राज्यों के सामूहिक प्रयास पर बल दिया जा रहा है। लखवाड़ बहुद्देशीय परियोजना को आगामी 4 वर्षों में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। लखवाड़ परियोजना से हरियाणा को 160 क्यूसेक पानी की प्रतिवर्ष आपूर्ति होगी।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि तीनो परियोजनाओं को पूरा करने के लिए साझा प्रयास किए जा रहे हैं। राज्यों के अंतिम सयुंक्त प्रयास के तहत केंद्र सरकार से अनुरोध किया जाएगा कि परियोजनाओं के टेंडर प्रक्रिया शुरू करने के लिए जल्द से जल्द अनुमति दी जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा,” किसाऊ, लखवाड़ व रेणुका बहुद्देशीय परियोजनाओं से दोनों राज्यों के बिजली व पानी की जरूरते पूरी होंगी। जल्द ही उत्तराखंड व हरियाणा के बीच परिवहन के संबंध में भी एमओयू किया जाएगा।”

Tags
Show More

Related Articles

Close