Main Slideउत्तराखंडजीवनशैलीप्रदेशरोचक खबरें

उत्तराखंड में 43वें सिद्धपीठ माँ कुंजापुरी पर्यटन एवं विकास मेला-2018 शुरू, सीएम ने की शुरूआत

इस मौके पर सीएम ने सिंचाई विभाग की 12 करोड़ 16 लाख रूपए की योजनाओं का लोकार्पण और लोक निर्माण विभाग की 9 करोड़ 84 लाख की योजनाओं का शिलान्यास किया

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुधवार को रामलीला मैदान नरेन्द्रनगर में 43वें सिद्धपीठ माँ कुंजापुरी पर्यटन एवं विकास मेला-2018 का उद्घाटन किया। सीएम ने इस मौके पर सिंचाई विभाग की 12 करोड़ 16 लाख रूपए की योजनाओं का लोकार्पण और लोक निर्माण विभाग की 9 करोड़ 84 लाख की योजनाओं का शिलान्यास किया।

लोकार्पण की गई योजनाओं में जनपद टिहरी गढ़वाल में चन्द्रभागा नदी के बाएं तट पर ढ़ालवाला पुल से चन्द्रभागा पुल तक सुदृढ़िकरण और बाढ़ सुरक्षा का काम शामिल है। शिलान्यास की गई योजनाओं में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस ऑफ आर्गेनिक फॉमिंग एवं टिहरी भवन एवं विधान सभा क्षेत्र नरेन्द्रनगर में डाबरखाल भैस्यारों मोटरमार्ग का सुधारीकरण/डामरीकरण काम शामिल है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने सभी को नवरात्रों की बधाई देते हुए कहा,” पर्वतीय क्षेत्रों का विकास राज्यहित से जुड़ा है। हमारी सरकार पहाड़ी क्षेत्रों के विकास के लिए संकल्पबद्ध है। हमने उत्तराखंड की भौगोलिक विशिष्टताओं को देश व दुनिया के सामने रखा। इस कारण दुनियाभर के निवेशक उत्तराखंड की ओर आकर्षित हुए हैं।”

उन्होंने कहा कि हमें उत्तराखंड़ के लिए ऐसी नीतियां बनानी होगी जो युवाओं के भविष्य को संवारे। हमें राज्य के युवाओं को व्यवसाई बनाना है, ताकि वे दूसरों को भी रोजगार दे सकें। हमारे प्रदेश में प्राकृतिक संसाधन प्रचुर मात्रा में है। इनका सदुपयोग कैसे हो, यह सोच विकसित करनी होगी। हमें 2025 तक प्रदेश में बदलाव लाना है।

Tags
Show More

Related Articles

Close