IANS

मप्र में कांग्रेस निकालेगी राम पथ गमन यात्रा

भोपाल, 13 सितंबर (आईएएनएस)| मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी कांग्रेस अपनी-अपनी तरह से एक दूसरे को घेरने की कोशिश में लगी हैं, कांग्रेस ने तय किया है कि वह 23 सितंबर (अनंत चतुर्दशी) से ‘राम पथ गमन यात्रा’ निकालेगी। यह यात्रा उस मार्ग से होकर गुजरेगी जहां वनवास के दौरान भगवान राम गुजरे थे। कांग्रेस मीडिया विभाग की प्रमुख शोभा ओझा ने गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि देश में भारतीय जनता पार्टी सत्ता हथियाने के लिए भगवान राम को हथियार के रूप में इस्तेमाल करती आई है। उनकी भावनाएं सिर्फ वोट तक ही सीमित हैं। भारतीय जनता पार्टी जहां गौमाता के नाम पर राजनीति करती है, वहीं मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा आगर में बनाए गए देश के पहले गौ अभयारण्य में गायें भूख-प्यास से तड़पकर मर जाती हैं।

शोभा ने कहा, मध्यप्रदेश के घोषणावीर मुख्यमंत्री शिवराज सिह चैहान ने अक्टूबर 2007 को चित्रकूट में प्रदेश के जन-जन की धामक भावनाओं से खेलते हुए घोषणा की थी कि प्रदेश सरकार 25 हजार करोड़ रुपये की लागत से राम वन गमन पथ का निर्माण करेगी, लेकिन मुख्यमंत्री की अन्य घोषणाओं की तरह ये घोषणा भी जुमला साबित हुई।

ओझा ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि वह जनता की धामक भावनाओं से खिलवाड़ कर राजनीतिक रोटियां सेंकने का काम करती हैं। इनकी मंशा धामक स्थलों के विकास की न कभी थी और न भविष्य की कोई योजना है।

ओझा ने ऐलान किया कि मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने मध्यप्रदेश को विध्व के मानचित्र में धामक पर्यटन केंद्र के रूप में स्थापित करने का संकल्प लिया है। कांग्रेस राज्य के सभी तीर्थस्थलों को पर्यटन की ष्टि से विकसित करने व पैाराणिक मान्यताओं के आधार पर संरक्षित करने का रोडमैप तैयार करेगी।

Show More

Related Articles

Close