Main Slideउत्तराखंडजीवनशैलीप्रदेशरोचक खबरें
Trending

देयोरिया ताल : एक तालाब जिसकी पांडवों ने की थी खोज

मानसून में पहाड़ों की ख़ूबसूरती देखने के लिए घूम कर आइए देयोरिया ताल

प्रदेश – उत्तराखंड
जनपद – रुद्रप्रयाग
ब्लॉक – उख़ीमठ
गाँव – सारी

उत्तराखंड के सारी गांव से पास स्थित है देयोरिया ताल। ( फोटो – देवांशु मणि तिवारी )

अगर आप घूमने के शौकीन हैं और मानसून की रिमझिम में पहाड़ों की सुंदरता देखना चाहते हैं, तो आपके लिए उत्तराखंड में देयोरिया ताल घूमने की शानदार जगह है।

मानसून के समय देयोरिया ताल दिखने में लगता है बेहद शानदार। ( फोटो – देवांशु मणि तिवारी )

उत्तराखंड के सारी गाँव से तीन किमी. की ट्रैकिंग के बाद आप पहाड़ों के ऊपरी छोर पर बने देयोरिया ताल पर पहुंच जाएंगे।

यहाँ आप रात भर कैम्पिंग, बोन फायर के बीच गीत-संगीत की महफ़िले जमा सकते हैं। यह मौसम देयोरिया ताल घूमने के लिए बिलकुल सही है।

तालाब का जल इतना पारदर्शी है कि ताल की नीचली सतह के पत्थर भी दिखते हैं बेहद साफ। ( फोटो – देवांशु मणि तिवारी )

इस तालाब से दिखने वाला नज़ारा बहुत ही शानदार होता है। मानसून में यहां से दिखने वाले पहाड़ी गांवों के दृश्य बहुत ही हसीन होते  हैं।

पांडवों ने की थी इस तालाब की खोज। ( फोटो – देवांशु मणि तिवारी )

देयोरिया ताल से जुड़ा पौराणिक इतिहास

देयोरिया ताल के पास स्थानीय गाँव सारी के निवासी उमेंद्र नेगी (36 वर्ष) ने बताया, “ हमारे बुज़ुर्ग यह बताते हैं कि पांडव जब स्वर्ग की खोज के लिए अपने मार्ग पर आगे बढ़ रहे थे तो उन्होंने बद्रीनाथ पर जल चढ़ाने के लिए इसी तालाब से जल लिया था। बद्रीनाथ के लिए जल लेने के बाद पांडवों ने इस तालाब को देयोरिया ताल पुकारा था।”

Tags
Show More

Related Articles

Close