Home / खेल / आईएसएल-4 : मार्सेलिन्हो की गैरमोजूदगी, पुणे की परेशानी

आईएसएल-4 : मार्सेलिन्हो की गैरमोजूदगी, पुणे की परेशानी

चेन्नई, 12 जनवरी (आईएएनएस)| कोच रैंको पोपोविक पर लगे प्रतिबंध के बाद एफसी पुणे सिटी को अब अपने अगले मैच में अपने स्टार खिलाड़ी मार्सेलिन्हो की कमी खलेगी। मार्सेलिन्हो के बिना पुणे को शनिवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में चेन्नयन एफसी का सामना उसी के घर में करना है। पोपोविक पर चार मैचों का प्रतिबंध है। पुणे की टीम पिछले दो मैचों में अपने कोच के बिना ही उतरी थी और इस दौरान उसने अपने खाते में चार अंक डाले हैं।

ब्राजील के मार्सेलिन्हो ने इस सीजन में पुणे के लिए सबसे अधिक छह गोल किए हैं, जिसमें एक हैट्रिक भी शामिल है। इसके अलावा उन्होंने चार मौकों पर अपने साथियों को गोल करने में मदद की है। इस सीजन में चार पीले कार्ड हासिल करने के बाद मार्सेलिन्हो एक मैच का निलम्बन झेल रहे हैं।

यह पहला मौका नहीं है जब पुणे की टीम मार्सेलिन्हो के बगैर मैदान में उतरेगी। इससे पहले वह बेंगलुरू एफसी के खिलाफ भी नहीं खेल सके थे क्योंकि वह फिट नहीं थे और इस कारण पोपोविक ने उन्हें बेंच पर ही बनाए रखा था। उनकी गैरमौजूदगी में हालांकि पुणे को हार मिली थी।

पुणे के सहायक कोच ब्लादिका ग्रुजिक ने मैच से पहले आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, मार्सेलिन्हो लीग के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक हैं। हमें उनकी कमी खलेगी लेकिन मैं जानता हूं कि मेरी टीम में कई गुण हैं। हम उनकी महत्ता समझते हैं। अगर एक टीम एक खिलाड़ी के बिना नहीं खेल सकती तो वह टीम नहीं। अगले मैच में हमें अपनी शक्तियों पर भरोसा रखना होगा।

पुणे ने नौ मैचों से 16 अंक जुटाए हैं और फिलहाल वह तालिका में तीसरे स्थान पर है। चेन्नई की टीम एक अंक अधिक लेकर दूसरे स्थान पर है। अब पुणे की टीम चेन्नई को हराते हुए प्लेऑफ की दावेदारी पेश करना चाहेगी। हालांकि पुणे के सहायक कोच ने यह कहा है कि अभी वहां तक पहुंचने के लिए काफी कुछ किया जाना बाकी है।

उन्होंने कहा, हमने अब तक कुछ हासिल नहीं किया है क्योंकि आप यहां से पहले, चौथे या फिर अंतिम भी हो सकते हैं। अब हमारा यहां से लक्ष्य इतने अंक हासिल करना होगा कि हम अंतिम चार में जरूर जगह बना सकें। फिलहाल तो हमारा यही लक्ष्य है।

चेन्नयन एफसी ने इस सीजन में काफी सराहनीय प्रदर्शन किया है और इसी कारण वह 10 टीमों की तालिका में बेंगलुरू एफसी के बाद दूसरे स्थान पर है। चेन्नई को भी अपने मुख्य कोच जॉन ग्रेगोरी के बगैर ही यह मैच खेलना होगा। ग्रेगोरी अपने समकक्ष की तरह ही निलम्बित हैं।

ग्रुजिक ने कहा, दोनों टीमों के कोच शानदार हैं। ये यहां खेल की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं। मैं इन दोनों को जल्द से जल्द डगआउट में देखना चाहता हूं।

ग्रेगोरी की अनुपस्थिति का चेन्नई के मनोबल पर अधिक असर नहीं पड़ेगा क्योंकि इस मैच के साथ उसके कप्तान हेनरिक सोरेनो मैदान में वापसी कर रहे हैं। सोरेनो एक मैच के प्रतिबंध के बाद मैदान पर उतरेंगे।

चेन्नई के सहायक कोच सैयद सबीर पाशा ने कहा, हम जानते हैं कि पुणे का अटैक काफी अच्छा है। यह खतरनाक दिखता है। हम जानते हैं कि पुणे के फारवर्ड हम पर भारी पड़ सकते हैं। हम भाग्यशाली हैं कि हमारे सबसे अच्छे खिलाड़ी और कप्तान सोरेनो हमारे साथ रहेंगे। यह अच्छा मुकाबला होगा।

चेन्नयन एफसी ने बीते दो मैचों में अंतिम पलों में गोल खाए हैं। दिल्ली के खिलाफ उसका स्कोर 2-2 था जबकि केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ उसे 1-1 से ड्रॉ खेलना पड़ा था। ऐसे में पाशा ने अपने खिलाड़ियों से सावधान रहने और अंतिम पलों में गोल खाने से बचने की अपील की है।

पाशा ने कहा, यह हमे तकलीफ देता है। यह ध्यान से हटने के कारण होता है। हमें अंतिम पलों में एक टीम की तरह खेलना होगा और मैं समझता हूं कि खिलाड़ी भी इसे अच्छी तरह समझते हैं। मुझे उम्मीद है कि आने वाले मैचों में इस तरह की गलती नहीं होगी।

=>
loading...
उत्तर प्रदेश की खबरें

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com